शहद के साथ दूध पीने के 10 अद्भुत फायदे

याद मत करो

घर ब्रेडक्रंब स्वास्थ्य ब्रेडक्रंब कल्याण कल्याण ओइ-लेखका द्वारा शबाना 6 नवंबर, 2017 को

आज की पीढ़ी फास्ट लेन में जीवन जीना पसंद करती है। घर और कामकाजी जीवन के बीच लगातार जूझने से खुद की देखभाल करने में बहुत कम समय लगता है।

तेजी से पुस्तक और व्यस्त जीवन हमारे स्वास्थ्य पर जल्द या बाद में एक टोल लेने के लिए बाध्य है। लेकिन हर दिन इतनी प्रतिबद्धताओं के साथ, क्या हम बीमार पड़ सकते हैं?

रोजमर्रा की जिंदगी की हलचल में, हम अक्सर कुछ समय बचाने के लिए हर संभव तरीके से शॉर्ट कट का सहारा लेते हैं। इसका आमतौर पर मतलब है कि घर पर ताजा भोजन तैयार करने और अधिक बार बाहर खाने का समय नहीं है।



इसके अलावा, हमारे डेस्क से चिपके रहने का मतलब है कि हमारे शरीर को वह शारीरिक व्यायाम नहीं मिल रहा है जो उसे स्वस्थ रहने के लिए चाहिए।

शहद और दूध के स्वास्थ्य लाभ

हमारा शरीर एक मशीन है जो ईंधन पर चलती है जो हमारे द्वारा खाए गए भोजन द्वारा प्रदान की जाती है। इसलिए, सही खाने के लिए महत्वपूर्ण है। स्वस्थ और संतुलित आहार हमारे शरीर को दुरुस्त और दुरुस्त रखेगा।

कभी-कभी, हर समय स्वस्थ भोजन करना संभव नहीं है। ऐसे मामलों में कुछ आयुर्वेदिक उपचार हैं जो हमारे शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद हैं।

हमारे देश में प्राचीन ऋषि और चिकित्सक आयुर्वेद के सभी रहस्यों को जानते थे और उन्होंने पीढ़ी-दर-पीढ़ी हमें सफलतापूर्वक इन तक पहुँचाया। आज भी, विज्ञान और चिकित्सा में इतनी उन्नति के साथ, हम अभी भी अपनी बीमारियों के इलाज के लिए कुछ आयुर्वेदिक उपायों पर निर्भर हैं।

हमारे व्यस्त दिन-प्रतिदिन के जीवन में, हमें अक्सर कुछ सरल उपायों की आवश्यकता होती है जो हर दिन खाए जा सकते हैं और हमारे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए हर दिन काम करते हैं। ऐसा ही एक आसान पेय दूध और शहद है।

दूध एक सुपर फूड है जिसमें कई पोषक तत्व होते हैं। इसे अपने आप में संपूर्ण भोजन कहा जाता है। दूध में मौजूद कैल्शियम और विटामिन हमारी हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत रखने में मदद करेंगे।

शहद एक अन्य हर्बल घटक है जिसका आयुर्वेद की पुस्तकों में व्यापक रूप से उल्लेख किया गया है। यह एक एंटी-ऑक्सीडेंट है, और इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, जो इसे कई बड़े और छोटे संक्रमणों से लड़ने के लिए एकदम सही बनाता है।

इन दोनों शक्तिशाली सामग्रियों का संयोजन आपके शरीर में अद्भुत काम करता है, अगर हर दिन इसका सेवन किया जाए। साथ ही, यह पेय तैयार करने में आसान है और स्वादिष्ट भी। तो आपके पास कोई कारण नहीं है कि आप हर दिन एक गिलास न लें।

यहां हर दिन दूध और शहद पीने के शीर्ष 10 आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ हैं। यह सूची इतनी प्रभावशाली है कि आप निश्चित रूप से इसे अपने रोजमर्रा के आहार में शामिल करना चाहेंगे।

सरणी

1) सहनशक्ति को बढ़ाता है

अपना दिन शुरू करने के लिए दूध और शहद के लम्बे गिलास से बेहतर कुछ भी नहीं है। शहद में कार्बोहाइड्रेट आपको तुरंत ऊर्जा प्रदान करेगा। दूध में प्रोटीन शक्ति प्रदान करेगा। यह पेय आपको पूरे दिन चार्ज रखेगा। यह बच्चों और वयस्कों दोनों के लिए एक अद्भुत सहनशक्ति बढ़ाने वाला पेय है।

सरणी

2) पाचन में एड्स

दूध और शहद का संयोजन पाचन को सहायता प्रदान करने में अद्भुत काम करता है। शहद में कुछ प्रीबायोटिक्स होते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को बेहतर बनाने के लिए दूध में प्रोबायोटिक्स को सक्रिय करते हैं। इससे पाचन क्रिया में अच्छे बैक्टीरिया बढ़ जाते हैं। जब पाचन तंत्र स्वस्थ होता है, तो यह कब्ज और सूजन जैसी कई स्थितियों को दूर रखता है।

सरणी

3) हड्डियों के लिए अच्छा है

दूध कैल्शियम का सबसे अच्छा स्रोत है। लेकिन हमारा शरीर इस कैल्शियम को अवशोषित करने में अच्छा नहीं है। शहद दूध से सभी कैल्शियम को अवशोषित करने और हड्डियों तक पहुंचाने में मदद करता है। इसीलिए, हड्डी के स्वास्थ्य के लिए शहद में दूध मिलाया जाता है।

सरणी

4) कब्ज को ठीक करता है

शहद को गर्म दूध के साथ मिलाया जाता है, अगर बिस्तर पर समय पर कब्ज को ठीक करने के लिए कहा जाता है। दूध को मलत्याग करने में सहायता के लिए जाना जाता है। शहद में कुछ एंजाइम होते हैं जो आंतों के सुगम मार्ग को बढ़ावा देते हैं। यह संयोजन स्टैफिलोकोकस बैक्टीरिया को मारने में बहुत प्रभावी है और पेट फूलना और आंतों के अन्य विकारों को रोकता है।

सरणी

5) अनिद्रा को रोकता है

दूध और शहद अनिद्रा और नींद हराम करने में बहुत गुणकारी है। हालांकि शहद एक शर्करा युक्त भोजन है, यह शरीर में स्रावित इंसुलिन को नियंत्रित करता है और ट्रिप्टोफैन की मात्रा को बढ़ाता है। यह ट्रिप्टोफैन सेरोटोनिन में परिवर्तित होता है, जिसे स्लीप हार्मोन के रूप में जाना जाता है।

सरणी

6) उम्र बढ़ने से रोकता है

दूध और शहद में मौजूद शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट शरीर में मुक्त कणों के प्रभाव को कम करके उम्र बढ़ने को उल्टा कहते हैं। मुक्त कण हमारे आंतरिक अंगों को बहुत नुकसान पहुंचाते हैं, जिससे उनकी उम्र कम हो जाती है। उनके प्रभावों को उलट कर, दूध और शहद हमारे शरीर को आंतरिक और बाहरी दोनों तरह से युवावस्था को बहाल करते हैं।

सरणी

7) खांसी के इलाज में मदद करता है

दूध और शहद के एंटी बैक्टीरियल गुण सीने में जमाव को कम करते हैं। इसके विरोधी भड़काऊ गुण गले की जलन और सूजन को शांत करते हैं और खाँसी एपिसोड को कम करते हैं। दूध + शहद शरीर से बलगम को बाहर निकालने में भी मदद करेगा।

सरणी

8) तनाव से लड़ने में मदद करता है

गर्म दूध और शहद शरीर में कोर्टिसोल के स्तर को बाधित करने के लिए कहा जाता है, जो तनाव हार्मोन है। यह हार्मोन द्वारा आंतरिक अंगों को हुए नुकसान को भी कम करता है। यह मस्तिष्क की नसों को शांत करता है और आराम करने में मदद करता है। पेय में एंजाइम एक अच्छे मूड उत्थानक हैं।

सरणी

9) एकाग्रता में सुधार करता है

हनी मस्तिष्क समारोह को बढ़ावा देने के लिए कहा जाता है। यह तनाव को कम करता है और मस्तिष्क के संज्ञानात्मक और स्मृति कार्यों को भी बढ़ाता है। स्मरण शक्ति बढ़ाने और एकाग्रता बढ़ाने के लिए दूध + शहद एक शक्तिशाली संयोजन है।

सरणी

10) लड़ता है पेट में संक्रमण

शहद के मजबूत एंटी-बैक्टीरियल गुण संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करते हैं। दूध में एंजाइम भी पाचन में सहायता करते हैं, जिससे पेट की स्थिति में सुधार होता है।

हाथों पर टैन कैसे कम करें

लोकप्रिय पोस्ट